Guru Purnima 2022: आज पूर्णिमा पर गुरु-मंगल बना रहे हैं पंच महापुरुष योग, देगा विशेष फल

Guru Purnima 2022: Today, on the full moon, Guru-Mangal is making Panch Mahapurush Yoga, will give special results

स्नान दान व्रत सहित सभी कार्यों के लिए आषाढ़ी पूर्णिमा जिसे Guru Purnima भी कहा जाता हैं। गुरु पूर्णिमा का प्रसिद्ध पर्व 13 जुलाई 2022 दिन बुधवार को बड़े ही धूमधाम के साथ मनाया जाएगा । पूर्णिमा तिथि का आरंभ हैं 12 जुलाई 2022 दिन मंगलवार की रात में 2:35 के बाद आरंभ होगा जो 13 जुलाई 2022 दिन बुधवार की रात में 12:06 तक व्याप्त होगा। ऐसी स्थिति में पूर्णिमा तिथि सूर्योदय से लेकर सूर्यास्त तक प्राप्त होगी । अतः पूरा दिन स्नान दान के लिए ,पूजन के लिए महत्वपूर्ण हैं। इस दिन श्रद्धालु अपने गुरु जनो की कृपा प्राप्ति ,आशीर्वाद प्राप्ति के निमित्त पूजा-पाठ यज्ञ के साथ-साथ दान दक्षिणा देते हैं।

इस दिन ग्रहों का बहुत ही सुंदर सहयोग प्राप्त हो रहा हैं। 5 ग्रह मंगल, बुध , गुरु , शुक्र, शनि अपनी अपनी राशि में रह करके इस दिन के महत्व को अनंत गुना बढ़ा देंगे। इन ग्रहों की स्थिति के आधार पर इस दिन पांच प्रकार के पंच महापुरुष योगों का निर्माण होगा। साथ ही दोनों गुरु देव गुरु बृहस्पति एवं दैत्य गुरु शुक्र अपनी-अपनी राशि में रहकर के गुरु पूर्णिमा के महत्व को बढ़ाने वाले होंगे।

भूमि भवन वाहन के कारक ग्रह मंगल अपनी राशि मेष में रहकर रूचक नामक पंच महापुरुष योग का निर्माण करेंगे। बुद्धि विवेक ज्ञान के कारक ग्रह बुध अपनी राशि मिथुन में रह करके भद्र नामक पंच महापुरुष योग का निर्माण करेंगे। ज्ञान अध्यात्म धर्म विवेक के कारक ग्रह बृहस्पति अपनी राशि में रहकर हंस नामक पंच महापुरुष योग का निर्माण करेंगे। सौंदर्य प्रेम आकर्षण के कारक ग्रह शुक्र अपनी राशि वृष में रहकर मालव्य नामक पंच महापुरुष योग के निर्माण करेंगे तो वही ग्रहों में न्यायाधीश की पदवी प्राप्त शनि देव अपने राशि में रहकर इस दिन के महात्म्य को बढ़ाने वाले होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *