अर्थव्यवस्था

पांच साल बाद नोटबंदी के कारण कितनी बदली देश की अर्थव्यवस्था

पांच साल बाद नोटबंदी के कारण कितनी बदली देश की अर्थव्यवस्था

नई दिल्ली: आज आठ नवंबर है, 05 साल पहले आज ही के दिन साल 2016 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रात 08 बजे देश को संबोधित किया था और 500 व 1,000 रुपये के नोटों को अवैध घोषित कर दिया था। बता दें कि नोटबंदी के बाद भी भारतीय अर्थव्यवस्था में नकदी का बोलबाला अब भी कायम है। नोटबंदी के पांच वर्ष बाद डिजिटल भुगतान में बढ़ोतरी के बावजूद चलन में नोटों की संख्या लगातार वृद्धि हो रही है। हालांकि इस वृद्धि की रफ्तार धीमी हुई है। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के ताजा आंकडों के मुताबिक मूल्य के हिसाब से…
Read More
RBI ने ब्याज दरों को रखा बरकरार और उदार रुख जारी रखा

RBI ने ब्याज दरों को रखा बरकरार और उदार रुख जारी रखा

मुंबई: आठ अक्टूबर भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने शुक्रवार को रेपो दर को लगातार 8वीं बार अपरिवर्तित रखा और एक उदार रुख के साथ जारी रखा। रेपो दर- केंद्रीय बैंक की उधार दर- 4 प्रतिशत और रिवर्स रेपो दर- उधार दर- 3.35 प्रतिशत पर अपरिवर्तित रहा है। आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि ये फैसला टिकाऊ आधार पर विकास को पुनर्जीवित करने और बनाए रखने और अर्थव्यवस्था पर COVID-19 के प्रभाव को कम करने के लिए आवश्यक है। उन्होंने कहा कि कोविड के दूसरी लहर का सबसे खराब असर अर्थव्यवस्था पर पड़ा है, COVID-19 टीकाकरण में पर्याप्त तेज़ी, आर्थिक…
Read More