Ladakh

Ladakh Standoff: PP-15 से कब तक पीछे हट जाएगी चीनी सेना

Ladakh Standoff: PP-15 से कब तक पीछे हट जाएगी चीनी सेना

लद्दाख: पूर्वी लद्दाख इलाके में पिछले दो साल से ज्यादा समय से चीन के साथ भारत के तनाव को कम करने की दिशा में एक और प्रगति हुई हैं। भारत के बाद अब चीनी सेना ने पुष्टि की हैं कि लद्दाख (Ladakh) स्थित गोगरा-हॉटस्प्रिंग्स क्षेत्र के पेट्रोलिंग प्वाइंट 15 से सेना हटाई जाएगी। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा हैं कि गोगरा-हॉट स्प्रिंग्स पर 08 सितंबर से ही दोनों सेनाओं की ओर से पीछे हटने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई थी। उन्होंने बताया कि 12 सितंबर तक दोनों सेनाएं इस जगह को खाली कर देंगी। दोनों पक्षों के बीच…
Read More
लद्दाख के उपराज्यपाल ने Piyush Goyal से की मुलाकात

लद्दाख के उपराज्यपाल ने Piyush Goyal से की मुलाकात

लेह (लद्दाख): लद्दाख के उपराज्यपाल आरके माथुर ने बुधवार को केंद्रीय वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) से मुलाकात की। उपराज्यपाल के कार्यालय के एक ट्वीट के अनुसार, उन्होंने केंद्रीय मंत्री से लद्दाख के उद्योग क्षेत्र के लिए विशेष पैकेज में तेजी लाने का अनुरोध किया। दोनों नेताओं ने खाद्य प्रसंस्करण और हथकरघा क्षेत्र के साथ-साथ माल ढुलाई नीति पर भी चर्चा की।
Read More
पूर्वी लद्दाख पर भारत-चीन सैन्य वार्ता बेनतीजा, China ने किया अपनी जगह से हिलने से इनकार

पूर्वी लद्दाख पर भारत-चीन सैन्य वार्ता बेनतीजा, China ने किया अपनी जगह से हिलने से इनकार

नई दिल्ली: भारतीय पक्ष ने वार्ता के दौरान बताया कि एलएसी के साथ स्थिति चीनी पक्ष द्वारा यथास्थिति को बदलने और द्विपक्षीय समझौतों के उल्लंघन के एकतरफा प्रयासों के कारण हुई थी। चीन (China) के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के नेतृत्व में चीनी पीएलए रविवार को 13वें दौर की वार्ता के दौरान अड़ियल रुख में नजर आए। रविवार को भारत-चीन के वरिष्ठ सैन्य कमांडरों की मैराथन बातचीत का कोई नतीजा नहीं निकला क्योंकि चीनी सेना पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर शेष तीन फ्रिक्शन प्वाइंट्स में डी-एस्केलेशन को हल करने के लिए तैयार नहीं थी। दोनों सेनाओं द्वारा जारी किए…
Read More
उत्तराखंड में घुसे चीनी सैनिक, हमारे इंफ्रास्ट्रक्चर को क्षतिग्रस्त कर लौटे

उत्तराखंड में घुसे चीनी सैनिक, हमारे इंफ्रास्ट्रक्चर को क्षतिग्रस्त कर लौटे

नई दिल्ली: लद्दाख के पूर्वी हिस्से में तनातनी के बाद चीन ने एकबार फिर से उकसाने की कोशिशि की है। समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार चीनी सेना के 100 से ज्यादा जवान बॉर्डर पार कर भारत में घुस आए थे। ये सैनिक उत्तराखंड के बाराहोती इलाके में घुसे थे। रिपोर्ट्स के अनुसार इन चीनी सैनिकों ने इंफ्रास्ट्रक्चर को भी नुकसान पहुंचाया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक यह घटना 30 अगस्त की है। चीनी सैनिक भारत की सीमा के 05 किमी भीतर घुसे थे और इनके पास 50 से अधिक घोड़े भी थे। इस घुसपैठ के कुछ घंटों के बाद उत्तराखंड…
Read More