विज्ञान

जानें क्यों मनाते हैं भारतीय नौसेना सेना..

जानें क्यों मनाते हैं भारतीय नौसेना सेना..

भारतीय नौसेना दिवस 2022 (Indian Navy Day 2022) 04 दिसंबर को मनाया जाता हैं। यह भारतीय नौसेना बलों को सम्मानित करने उनके योगदानों की सराहना करने का विशेष दिन हैं। खासतौर पर साल 1971 में भारत-पाकिस्तान युद्ध के दौरान पाकिस्तान के खिलाफ ऑपरेशन ट्राइडेंट के लॉन्च की याद में भारतीय नौसेना दिवस 2022 भी मनाया जाता हैं। भारतीय नौसेना ने इस युद्ध में एक प्रमुख भूमिका निभाई थी। युद्ध में अपने प्राणों की आहुति देने वाले नौसैनिकों को सम्मान देने के लिए हर साल भारतीय नौसेना दिवस मनाया जाता हैं। भारतीय नौसेना दिवस का इतिहास भारतीय नौसेना की स्थापना साल…
Read More
Skyroot Rocket: इसरो ने रचा इतिहास, देश का पहला निजी रॉकेट सफलतापूर्वक लॉन्च

Skyroot Rocket: इसरो ने रचा इतिहास, देश का पहला निजी रॉकेट सफलतापूर्वक लॉन्च

श्रीहरिकोटा: देश के पहले निजी रॉकेट विक्रम-एस (Rocket Vikram-S) को आज आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा से लॉन्च कर दिया गया। अंतरिक्ष स्टार्टअप स्काईरूट एयरोस्पेस की ओर से इस विकसित रॉकेट को भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने लॉन्च किया। सुबह 11:30 बजे इस रॉकेट ने उड़ान भरी। पहले इस रॉकेट को 15 नवंबर को लॉन्च किया जाना था लेकिन खराब मौसम की वजह इसे आज प्रक्षेपित किया गया। https://twitter.com/isro/status/1593497247110483968 बता दें कि स्काईरूट एयरोस्पेस के इस पहले मिशन को 'प्रारंभ' नाम दिया गया है, जिसमें 03 उपभोक्ता पेलोड हैं। इस मिशन को स्काईरूट के लिए एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर…
Read More
गूगल 4 डूडल के विनर बने कोलकाता के श्लोक मुखर्जी

गूगल 4 डूडल के विनर बने कोलकाता के श्लोक मुखर्जी

नई दिल्ली: गूगल फॉर डूडल 2022 (Google 4 Doodle) कॉम्पीटिशन के लिए कोलकाता के श्लोक मुखर्जी (Shlok Mukherjee) को विनर चुना गया हैं। इंडिया ऑन द सेंटर स्टेज विषय पर बनाए गए श्लोक के डूडल को देशभर से चुनी गई 20 एंट्रीज में से सबसे ज्यादा वोट मिले। गूगल इंडिया ने इसे अपने होम पेज पर 14 नवंबर की 12 रात बजे लाइव कर दिया हैं, जो अगले दिन रात 12 बजे तक दिखाई देगा। https://twitter.com/business_today/status/1592013706497777664 श्लोक की सोच- विज्ञान और सेहत में और मजबूत होगा देश अपने डूडल के बारे में श्लोक लिखते हैं, "अगले 25 सालों में भारत…
Read More
रक्षा सचिव ने DefExpo 2022 के अवसर पर बांग्लादेश और कजाकिस्तान के प्रतिनिधिमंडलों के साथ द्विपक्षीय बैठकें की

रक्षा सचिव ने DefExpo 2022 के अवसर पर बांग्लादेश और कजाकिस्तान के प्रतिनिधिमंडलों के साथ द्विपक्षीय बैठकें की

नई दिल्ली: रक्षा सचिव डॉ अजय कुमार ने 19 अक्टूबर को गुजरात के गांधीनगर में 12वें DefExpo 2022 के मौके पर बांग्लादेश और कजाकिस्तान के प्रतिनिधिमंडलों के साथ द्विपक्षीय बैठकें कीं। उन्होंने बांग्लादेश के सशस्त्र बल प्रभाग, बांग्लादेश के प्रधान अधिकारी लेफ्टिनेंट जनरल वाकर-उज़-ज़मान के नेतृत्व में एक बांग्लादेश प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात की। उन्होंने दोनों देशों के बीच चल रहे प्रमुख द्विपक्षीय रक्षा सहयोग मुद्दों की समीक्षा की और रक्षा औद्योगिक सहयोग बढ़ाने के तरीकों पर बातचीत की। https://twitter.com/drajaykumar_ias/status/1582666843684499456 AQI: दिल्ली की हवा होने लगी खराब, पटाखों और पराली से और बिगड़ेंगे हालात! बाद में रक्षा सचिव ने कजाकिस्तान के…
Read More
लिक्विड नाइट्रोजन में रखे हैं 199 लोग ताकि भविष्य में फिर हो सकें जिंदा

लिक्विड नाइट्रोजन में रखे हैं 199 लोग ताकि भविष्य में फिर हो सकें जिंदा

अमेरिका: अमेरिका के एरिजोना (Arizona) स्थित स्कॉट्सडेल में कुछ लोगों के लिए समय और मौत रुकी हुई हैं। न इनका। समय बीतेगा। न ही मौत आएगी, क्योंकि ये अपने शरीर और दिमाग को तरल नाइट्रोजन (Liquid Nitrogen) में रखवा चुके हैं। ताकि भविष्य में फिर से जिंदा हो सकें. यह प्रोजेक्ट लेकर आया हैं अलकोर लाइफ एक्सटेंशन फाउंडेशन (Alcor Life Extension Foundation)। https://twitter.com/ReutersScience/status/1580252352329961472 अलकोर फाउंडेशन के चीफ एक्जीक्यूटिव मैक्स मोर ने कहा कि असल में इस प्रोजेक्ट का मकसद कुछ और हैं। ये सिर्फ वापस जिंदा होने के लिए नहीं हैं। अभी जिन बीमारियों का इलाज नहीं उन बीमारियों का…
Read More
ईंधन खत्म तो ‘मंगलयान’ की 8 साल बाद हो गई विदाई

ईंधन खत्म तो ‘मंगलयान’ की 8 साल बाद हो गई विदाई

बैंगलुरु: भारत के मंगलयान (Mangalyaan) में ईंधन खत्म हो गया हैं और इसकी बैटरी एक सुरक्षित सीमा से अधिक समय तक चलने के बाद खत्म हो गई हैं, जिससे ये अटकलें तेज हो गई हैं कि देश के पहले अंतर्ग्रहीय मिशन ने आखिरकार अपनी लंबी पारी पूरी कर ली हैं।साढ़े चार सौ करोड़ रुपये की लागत वाला ‘मार्स ऑर्बिटर मिशन' (एमओएम) 05 नवंबर, 2013 को पीएसएलवी-सी25 से प्रक्षेपित किया गया था। वैज्ञानिकों ने इस अंतरिक्ष यान को पहले ही प्रयास में 24 सितंबर, 2014 को सफलतापूर्वक मंगल की कक्षा में स्थापित कर दिया था। इसरो के सूत्रों ने ‘पीटीआई' से…
Read More
पुण्यतिथि स्पेशल: अगर तुम सूरज की तरह चमकना चाहते हो, तो सबसे पहले सूरज की तरह जलो- Dr. APJ Abdul Kalam

पुण्यतिथि स्पेशल: अगर तुम सूरज की तरह चमकना चाहते हो, तो सबसे पहले सूरज की तरह जलो- Dr. APJ Abdul Kalam

एक महान वैज्ञानिक, लेखक, विचारक के साथ ही भारत के 11वें राष्ट्रपति रहे एपीजे अब्दुल कलाम की आज 7वीं पुण्यतिथि है। आज भले ही डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम हम सभी के बीच नहीं हैं पर उनका आइडियल जीवन हर एक देशवासियों को जीवन में अग्रसर रहने और कामयाबी की सीढ़ियों पर निरंतर चलते रहने को प्रेरित करता है। एक एयरोस्पेस वैज्ञीनिक होने के साथ ही डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम ने साल 2007 तक भारत के 11वें राष्ट्रपति की भुमिका निभाई है। उन्होंने देश की रक्षा में अहम योगदान दिया और रक्षा अनुसंधान केंद्र (DRDO) और भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO)…
Read More
आज ही के दिन इन्सान ने किया था चांद फतह..

आज ही के दिन इन्सान ने किया था चांद फतह..

आज उस ऐतिहासिक दिन को पूरे 52 साल हो गए हैं, जब मानव सभ्यता ने एक बड़ी उपलब्धि कासिल की थी। Apollo Moon Mission के लिए अंतरिक्षयान ने 16 जुलाई, 1969 को उड़ान भरी थी। इस यान में अंतरिक्षयात्री Neil Armstrong, Buzz Aldrin और Michael Collins सवार थे (Apollo 11 Mission Astronauts)। जो केवल 11 मिनट में ही अंतरिक्ष की कक्षा तक पहुंच गए। इसके चार दिन बाद 20 जुलाई को नील आर्मस्ट्रांग चांद पर कदम रखने वाले पहले इन्सान थे। इस दौरान उनके साथ एल्ड्रिन भी मौजूद थे। अपोलो 11 मानव जाति को चांद पर पहुंचाने वाला पहला मिशन…
Read More
स्वच्छ सागर सुरक्षित सागर: समुद्री जीवन और अर्थव्यवस्था के लिए अहम

स्वच्छ सागर सुरक्षित सागर: समुद्री जीवन और अर्थव्यवस्था के लिए अहम

नई दिल्ली: जुलाई माह के पहले ही दिन से सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगाकर पर्यावरण संरक्षण की मुहिम के प्रति प्रतिबद्धता पर सरकार ने अपनी मुहर लगा ही दी। वहीं, 3 जुलाई को इसी मुहिम की दिशा में एक और अभियान 'स्वच्छ सागर सुरक्षित सागर' भी जुड़ गया। यह अभियान 17 सितंबर, 2022 तक चलेगा, जो कि अंतरराष्ट्रीय तटीय स्वच्छता का अवसर होगा। इसके तहत पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय द्वारा 75 दिनों तक सबसे व्यापक समुद्र तटीय स्वच्छता अभियान चलाया जा रहा है। भारत की 7,500 किमी लंबी समुद्री तटरेखा की सफाई का यह महाअभियान नागरिकों की व्यापक भागीदारी के…
Read More
पृथ्वी से टकरा सकता हैं सोलर स्टॉर्म: सूर्य से निकलने वाले रेडिएशन से धरती पर पड़ेगा असर

पृथ्वी से टकरा सकता हैं सोलर स्टॉर्म: सूर्य से निकलने वाले रेडिएशन से धरती पर पड़ेगा असर

कुछ महीनों से सूर्य पर रहस्यमयी गतिविधियां देखने को मिल रही हैं। हाल ही में 11 अप्रैल को सूरज पर मौजूद एक डेड स्पॉट (मृत धब्बे) पर जोरदार विस्फोट हुआ हैं, जो पृथ्वी के लिए खतरा साबित हो सकता हैं। वैज्ञानिकों का कहना हैं कि इस स्पॉट से निकलने वाले रेडिएशन के कारण धरती पर गुरुवार या शुक्रवार को जियोमैग्नेटिक Solar Storm स्टॉर्म (तूफान) आएगा। इससे रात में ब्लैकआउट होने और इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस खराब होने की आशंका हैं। क्या होता हैं जियोमैग्नेटिक स्टॉर्म? जियोमैग्नेटिक स्टॉर्म एक प्रकार का सोलर स्टॉर्म (सौर तूफान) हैं। यह सूरज से निकलने वाला ऐसा रेडिएशन…
Read More