IAF

चीन की चाल हुई उजागर, Arunachal से 30KM दूर सबसे बड़ा बांध बना रहा ड्रैगन

चीन की चाल हुई उजागर, Arunachal से 30KM दूर सबसे बड़ा बांध बना रहा ड्रैगन

ईटानगर: ब्रह्मपुत्र नदी के प्रवाह को मनमाने तरीके से मोड़ने का काम तो चीन 11 साल से कर ही रहा हैं, लेकिन इस बार उसने बड़ी चाल चली हैं। अरुणाचल में LaC से सिर्फ 30 KM दूर चीन सबसे बड़ा बांध बना रहा हैं। यह चीन के मौजूदा सबसे बड़े थ्री-जॉर्ज डैम से भी थोड़ा बड़ा होगा। यह 181 मीटर ऊंचा और ढाई किमी चौड़ा होगा। लंबाई की जानकारी अभी स्पष्ट नहीं की गई हैं। 60,000 मेगावॉट बिजली पैदा करने की क्षमता का यह बांध मेडोग बॉर्डर पॉइंट के पास बनेगा। यहीं से ब्रह्मपुत्र भारत में प्रवेश करती हैं। चीन…
Read More
LaC के पास न्योमा एयरबेस को अपग्रेड करेगा भारत, वायुसेना के लिहाज से काफी अहम

LaC के पास न्योमा एयरबेस को अपग्रेड करेगा भारत, वायुसेना के लिहाज से काफी अहम

नई दिल्ली: सीमावर्ती इलाकों में बुनियादी ढांचों के विकास को लेकर तेजी से काम किया जा रहा है। इसके लिए सड़क, पूल सहित सामरिक रूप से अहम सभी तरह के विकास को तेज गति से आगे बढ़ाया जा रहा है। इस प्रक्रिया में और तेजी लाते हुए लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC ) के पास 13 हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित न्योमा एयरबेस को तेजस, मिराज-2000 जैसे फाइटर जेट्स के लिए अपग्रेड करने जा रहा है। लड़ाकू विमानों के लिए सक्षम LAC से महज 50 किमी. दूर न्योमा एयरफील्ड के लिए भारत ने टेंडर प्रक्रिया शुरू कर दी…
Read More
भारत की हवाई सीमा के उल्लंघन ‘LaC’ की कोशिश में ड्रैगन, वायुसेना ने भेजे फाइटर प्लेन

भारत की हवाई सीमा के उल्लंघन ‘LaC’ की कोशिश में ड्रैगन, वायुसेना ने भेजे फाइटर प्लेन

नई दिल्ली: भारत और चीन के सैनिकों के बीच 09 दिसंबर को तवांग सेक्टर में हुई झड़प ने दोनों देशों के बीच तनाव की आग को एक बार फिर काफी बढ़ा दिया है, जिसकी गर्मी सदन तक महसूस की जा रही है। भारत और चीन के सैनिकों के बीच झड़प के मुद्दे पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज संसद में सरकार की तरफ से बयान जारी किया। उन्होंने लोकसभा और राज्यसभा में जवाब देते हुए कहा कि 09 दिसंबर को पीएलए (चीनी सेना) ने तवांग सेक्टर के यांग्त्से क्षेत्र में, LaC पर अतिक्रमण पर यथास्थिति को एकतरफा बदलने का…
Read More
संयुक्त HADR अभ्यास समन्वय- 2022 वायु सेना स्टेशन आगरा में होगा शुरू

संयुक्त HADR अभ्यास समन्वय- 2022 वायु सेना स्टेशन आगरा में होगा शुरू

आगरा: भारतीय वायु सेना 28 नवंबर से 30 नवंबर, 2022 तक वायु सेना स्टेशन आगरा में वार्षिक संयुक्त मानवीय सहायता और आपदा राहत (HADR) अभ्यास 'समन्वय 2022' आयोजित कर रही है। संस्थागत आपदा प्रबंधन अवसंरचनाओं तथा आकस्मिक उपायों के प्रभाव का आकलन करने के उद्देश्य से आयोजित इस अभ्यास में आपदा प्रबंधन पर एक संगोष्ठी, एक ‘मल्‍टी एजेंसी अभ्‍यास’ शामिल होगा, जिसमें विभिन्न एचएडीआर परिसंपत्तियों के स्थिर और उड़ान प्रदर्शन तथा एक 'टेबल टॉप अभ्यास' होगा। देश के विभिन्न हितधारकों की भागीदारी के साथ इस अभ्यास में आसियान देशों के प्रतिनिधि भी भाग लेंगे। रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह 29…
Read More
रक्षा सचिव ने DefExpo 2022 के अवसर पर बांग्लादेश और कजाकिस्तान के प्रतिनिधिमंडलों के साथ द्विपक्षीय बैठकें की

रक्षा सचिव ने DefExpo 2022 के अवसर पर बांग्लादेश और कजाकिस्तान के प्रतिनिधिमंडलों के साथ द्विपक्षीय बैठकें की

नई दिल्ली: रक्षा सचिव डॉ अजय कुमार ने 19 अक्टूबर को गुजरात के गांधीनगर में 12वें DefExpo 2022 के मौके पर बांग्लादेश और कजाकिस्तान के प्रतिनिधिमंडलों के साथ द्विपक्षीय बैठकें कीं। उन्होंने बांग्लादेश के सशस्त्र बल प्रभाग, बांग्लादेश के प्रधान अधिकारी लेफ्टिनेंट जनरल वाकर-उज़-ज़मान के नेतृत्व में एक बांग्लादेश प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात की। उन्होंने दोनों देशों के बीच चल रहे प्रमुख द्विपक्षीय रक्षा सहयोग मुद्दों की समीक्षा की और रक्षा औद्योगिक सहयोग बढ़ाने के तरीकों पर बातचीत की। https://twitter.com/drajaykumar_ias/status/1582666843684499456 AQI: दिल्ली की हवा होने लगी खराब, पटाखों और पराली से और बिगड़ेंगे हालात! बाद में रक्षा सचिव ने कजाकिस्तान के…
Read More
Indian Air Force के 90 वर्षों के युद्धों और अभियानों की गौरवगाथा

Indian Air Force के 90 वर्षों के युद्धों और अभियानों की गौरवगाथा

नई दिल्ली: भारतीय वायु सेना (Indian Air Force) 8 अक्टूबर को चंडीगढ़ में अपना 90वां स्थापना दिवस मना रही है। इसी दिन साल 1932 में आधिकारिक रूप से रॉयल इंडियन एयर फोर्स के नाम से भारतीय वायु सेना की स्थापना हुई थी। 90 वर्षों के इस अंतराल में भारतीय वायु सेना ने अपने ढांचे में आमूलचूल परिवर्तन किया है। आईये एक नजर डालते हैं भारतीय वायु सेना के 90 गौरवशाली वर्षों की यात्रा पर। शुरुवाती सफर भारतीय वायु सेना की स्थापना 8 अक्टूबर, 1932 को हुई थी, लेकिन इसकी पहली उड़ान 01 अप्रैल, 1933 को संचालित की गई। उस समय…
Read More
दुनिया के सबसे बड़े युद्धाभ्यास ‘पिच ब्लैक 22’ में Indian Air Force का दिखा दम

दुनिया के सबसे बड़े युद्धाभ्यास ‘पिच ब्लैक 22’ में Indian Air Force का दिखा दम

नई दिल्ली: देश की सुरक्षा में तत्पर सेनाएं समय के साथ-साथ अपने सामरिक क्षमता में विस्तार के लिए दूसरे देशों के साथ अभ्यास करती रहती हैं। इन अभ्यासों से सेनाओं को नई तकनीक के आदान-प्रदान के साथ युद्धक माहौल में अपना कौशल दिखाने का भी मौका मिलता है। इसी तकनीक और सामरिक उपाय साझा करने के क्रम में ऑस्ट्रेलिया के डार्विन में दुनिया का सबसे बड़ा युद्धाभ्यास 'पिच ब्लैक 22' का आयोजन किया गया। लगभग 20 दिनों तक चले दुनिया के सबसे बड़े युद्धाभ्यास 'पिच ब्लैक' में हिस्सा लेने के बाद भारतीय वायु सेना (Indian Air Force) का दल कई…
Read More
रोमानिया-हंगरी से लाए गए 630 छात्र: IAF के C-17 ग्लोबमास्टरों की हिंडन एयरबेस पर हुई लैंडिंग, अब तक 1628 छात्रों को किया जा चुका हैं रेस्क्यू

रोमानिया-हंगरी से लाए गए 630 छात्र: IAF के C-17 ग्लोबमास्टरों की हिंडन एयरबेस पर हुई लैंडिंग, अब तक 1628 छात्रों को किया जा चुका हैं रेस्क्यू

गाजियाबाद: 'ऑपरेशन गंगा' के तहत भारतीय वायुसेना के तीन IAF के विमान गुरुवार रात और शुक्रवार सुबह 630 छात्रों को लेकर गाजियाबाद के हिंडन Hindon एयरबेस पर उतरे। इन विमानों ने रोमानिया के बुखारेस्ट और हंगरी के बुडापेस्ट हवाई अड्डे से उड़ान भरी थी। पहला विमान रात 11 बजे हुआ लैंड: रोमानिया से चले C-17 ग्लोबमास्टर की लैंडिंग गुरुवार रात 11 बजे हिंडन एयरबेस पर हुई। जबकि बुडापेस्ट से उड़ा विमान शुक्रवार सुबह 7 बजे एयरबेस पर उतरा। तीसरे विमान की लैंडिंग सुबह करीब 10 बजे हुई। तीनों विमानों में 210-210 छात्रों को लाया गया था। यहां पर मौजूद केंद्रीय…
Read More
फ्रांस से भारत पहुंचे 2 लड़ाकू विमान, HAL में किए जायेंगे अपग्रेड

फ्रांस से भारत पहुंचे 2 लड़ाकू विमान, HAL में किए जायेंगे अपग्रेड

नई दिल्ली: फ्रांस से खरीदे गए 24 सेकेंड हैंड मिराज-2000 में से दो लड़ाकू विमान भारत पहुंच गए हैं जिन्हें ग्वालियर एयरबेस पर रखा गया है। इन्हें अपग्रेड करने के लिए हिन्दुस्तान एयरोनाटिक्स लिमिटेड (HAL) भेजा जायेगा जहां पहले से ही भारतीय वायुसेना के पास मौजूद मिराज-2000 को अपग्रेड किया जा रहा है। बता दें कि बालाकोट स्ट्राइक में भारतीय वायुसेना के इन्हीं लड़ाकू विमानों ने आतंकी ठिकानों पर 1,000 किलो से ज्यादा विस्फोटक गिराए थे। भारतीय वायुसेना ने किए फ्रांस के साथ हस्ताक्षर भारतीय वायुसेना ने फ्रांस से 24 सेकेंड हैंड मिराज-2000 लड़ाकू विमान खरीदने के लिए 27 मिलियन…
Read More
IAF और Indian Army ने अग्रिम ठिकानों पर किया एयरलिफ्ट अभ्यास

IAF और Indian Army ने अग्रिम ठिकानों पर किया एयरलिफ्ट अभ्यास

नई दिल्ली: IAF और Indian Army ने अग्रिम ठिकानों के पास एयरलिफ्ट अभ्यास किया। इस संयुक्त अभ्यास को ‘ऑपरेशन हरक्यूलिस’ नाम दिया गया था। इसका उद्देश्य उत्तरी क्षेत्र में रसद आपूर्ति को मजबूत करना और परिचालन क्षेत्रों में शीतकालीन स्टॉकिंग को बढ़ाना था। सेना की उत्तरी कमान के पास पाकिस्तान और चीन के साथ LoC और LaC की लगभग 1896 किलोमीटर लम्बी सीमा के साथ ही अंतरराष्ट्रीय सीमा (IB) की रक्षा करने की जिम्मेदारी है। उत्तरी क्षेत्र में रसद आपूर्ति को मजबूत करना है उद्देशय चीन और पाकिस्तान के साथ इन सर्दियों में भी फिलहाल तनातनी खत्म होती नहीं दिखती,…
Read More